उज्जैनदेवासदेशमध्य प्रदेश

अब दे सकेगा आमीन परीक्षा, कॉलेज की फीस देगा प्रशासन….! , जनसुनवाई में दिया कलेक्टर को आवेदन….

देवास। मुसीबत में कोई साथ दे या ना दे मगर प्रशासन ने साथ दे ही दिया। एक छात्र जिसके दोनों हाथ नहीं होने के बाद वह अपनी मजबूरी को कलेक्टर आशीष सिंह  के सामने लाया, जिस पर कलेक्टर ने मदद देने की बात कहते हुए, तत्काल कार्यवाही के निर्देश सम्बंधित अधिकारी को दिए।
जिले के ग्राम पिपलरावा में पढऩे वाला यह छात्र जिसे पूर्व से छात्रवर्ती मिलती आ रही है, मगर इसके कॉलेज की फीस इतनी अधिक है, की ये सक्षम नही है की कॉलेज की पूरी फीस दे पाए। इस हेतु ये छात्र आमीन पिता इकबाल मंसूरी निवासी पिपलरावा जनसुनवाई में आया जहाँ इस छात्र ने अपने पैरों के जरिये आवेदन लिख कलेक्टर आशीष सिंह को दिया। छात्र ने बताया कि ये इंदौर के व्यंकटेश इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी में बीई में फाईनल कर रहा है, मुझे वर्तमान में 29 हजार रुपये छात्रवर्ती मिलती है, मगर मेरी कॉलेज की फीस सालाना 45 हजार 600 सौ रुपये फीस है, जो में भरने में असमर्थ हूं, इसलिए मैंने एक आवेदन कलेक्टर को दिया है, उन्होंने मुझे आश्वासन देते हुए कहा है, की आप मई माह में परीक्षा में सम्मिलित होकर परीक्षा देवें, आपको किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। छात्र मंसूरी को आश्वासन मिलते ही वह आश्वस्त होकर लौटा।
आमीन ने बताया….!!
छात्र आमीन ने बताया कि मैंने फस्ट ईयर की फीस तो जैसे तैसे जमा कर दी है, किन्तु आगामी फीस कैसे जमा होगी इस बात की निश्चितता नहीं है। कलेक्टर आशीष सिंह को आवेदन दिया है, उन्होंने कहा है, की अपने सभी दस्तावेज कॉलेज डायरेक्टर से सील साइन करा कर आप देवें फिर हम बची हुई आपकी फीस में मदद करेंगे। कॉलेज का ये छात्र अब अपने तमाम दस्तावेजों को लेकर इंदौर कॉलेज में जायेगा फिर जिलाधीश को देगा।