उज्जैनदेवासदेशमध्य प्रदेश

एडीएम पंहुची परिवहन कार्यालय, खंगाले कार्यालय में रखे दस्तावेज

एडीएम पंहुची परिवहन कार्यालय
खंगाले कार्यालय में रखे दस्तावेज
देवास। जिला परिवहन कार्यालय में शासकीय दस्तावेज जलाने के मामले को लेकर जनसुनवाई में पंहुचे के बाद शुक्रवार को कलेक्टर आशीषसिंह के निर्देश पर जांच करने आरटीओ कार्यालन एडीएम सारीका भूरीया पहुंची । गौरतलब है कि पिछले दिनों जिला परिवहन कार्यालय नए भवन में शिफ्ट किया गया है। इस दौरान नए भवन में बड़ी मात्रा में वाहन संबंधी रिकॉर्ड के दस्तावेज जला दिए गए थे। इस संबंध में पिछली जनसुनवाई में अजय रायकवार नामक व्यक्ति ने कलेक्टर से शिकायत भी की थी। जिस पर कलेक्टर के निर्देश पर एडीएम सारिका भूरिया शुक्रवार दोपहर जांच करने के लिए परिवहन कार्यालय पहुंची। यहां उन्होंने न केवल ऑफिस के रिकॉर्ड रूम में फाइलें देखी बल्कि जिस जगह दस्तावेज जलाए गए थे वहां से भी अवशेष बरामद किए गए।
इस संबंध में एडीएम भूरिया ने बताया कि वे कलेक्टर के निर्देश पर जांच करने पहुंची थी। रिकॉर्ड सेक्शन देखा गया है। जिस जगह दस्तावेज जलाए थे वहां का भी मुआयना किया है। जांच प्रतिवेदन कलेक्टर को सौंपा जाएगा। उधर जिला परिवहन अधिकारी ज्ञानेंद्र वैश्य का कहना है कि वे दस्तावेज जलाने के सिलसिले में डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के पास गए थे। उन्हें फोन पर सूचना मिली थी कि एडीएम जांच के लिए आई है। उन्होंने जिला परिवहन कार्यालय में किसी तरह के विवाद व गड़बड़ से इनकार किया है। साथ ही यह भी कहा कि कार्यालय में एजेंटों की कोई प्रथा या व्यवस्था नहीं है वे अधिकृत नहीं होते हैं। वही सीसी टीवी कैमरे भी देखे गए लेकिन उसकी दूरी अधिक होने से कुछ साफ नजर नही आ रहा है वही जो दस्तावेज जले है वह किसी काम के नही थे उसके बाद भी संबधित को नोटिस जारी किया गया है।