देशप्रकाश त्रिवेदी की कलम सेमध्य प्रदेश

भाजपा नए मतदाताओं को कांग्रेस शासन का इतिहास बतायेगी।

अहमदाबाद। भाजपा गुजरात के नए मतदाताओं को 22 साल पहले के कांग्रेस शासन का इतिहास बतायेगी। पार्टी नए मतदाताओं के लिए शिविर लगाकर, उनके घर जाकर,चौराहे पर चाय पर चर्चा में बुलाकर गुजरात मे कांग्रेसी शासन के कारनामों से अवगत करायेगी।
भाजपा की चुनाव प्रबंधन टीम की चिता पहली बार मतदान करने वाले युवा मतदाताओं को लेकर है। इन मतदाताओं का जन्म भाजपा शासनकाल में ही हुआ है। इन मतदाताओं को भाजपा के गुण दोष तो पता है पर कांग्रेस की सरकारों के बारे में इनका ज्ञान शून्य है।
भाजपा की चुनाव प्रबंधन टीम इन मतदाताओं को राहुल गांधी इफेक्ट से दूर रखना चाहती है। इसलिए इन नए मतदाताओं को 22 साल के पहले के कांग्रेस शासन के समय के दंगों,समुदाय विशेष की गुंडागर्दी, अहमदाबाद की जगन्नाथ रथयात्रा में रुकावट और कानून व्यवस्था की बदहाली के बारे में जानकारी दी जा रही है। भाजपा कार्यकर्ताओं के अलावा इस काम मे एनजीओ की सेवाएं भी ली जा रही है। सेव गुजरात,सेफ गुजरात की थीम पर भाजपा के इस अभियान की अहमियत इतनी है कि सीधे टीम मोदी इसकी निगरानी कर रही है।
गुजरात तब और अब में कानून व्यवस्था,अधोसंरचना, रोजगार,सामाजिक सुरक्षा,शिक्षा व्यवस्था,स्वास्थ्य सेवाएं आदि मामलों को तुलना कर इन नए मतदाताओं को बताया जा रहा हैं।
गौरतलब है कि कांग्रेस और राहुल गांधी के गुजरात जीतो अभियान को सबसे ज्यादा समर्थन इसी वर्ग से मिल रहा है। हार्दिक पटेल के पाटीदार आंदोलन की जान भी यही युवा है।
भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से दीक्षित पूर्णकालिक विस्तारकों की देखरेख में यह कार्य हो रहा है।
बहरहाल गुजरात चुनाव में भाजपा को मोदी के अलावा भी जीतने के लिए गड़े मुर्दे उखाड़ने पड़ रहे है।
देखना होगा नए मतदाताओं का विवेक क्या तय करता है।

प्रकाश त्रिवेदी@samacharline.com