कारोबार

अनिल अंबानी समूह की कंपनी रिलायंस पावर ने कमाल कर दिया है. कोरोना के बीच सितंबर में खत्म तिमाही में कंपनी का मुनाफा दोगुना से ज्यादा हो गया है. कंपनी को 105.67 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है.

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानी जुलाई से सितंबर की तिमाही में रिलायंस पावर का एकीकृत शुद्ध लाभ (नेट प्रॉफिट) दोगुना से अधिक होकर 105.67 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. कंपनी ने गुरुवार को शेयर बाजार को यह सूचना दी.

इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में कंपनी का नेट प्रॉफिट 45.06 करोड़ रुपये था. सितंबर तिमाही में कंपनी की कुल आय 2,626.49 करोड़ रुपये रही. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह 2,239.10 करोड़ रुपये थी. इस तरह कंपनी की कुल आय में करीब 17.3 फीसदी की बढ़त हुई है.

 

नकदी जुटाने का भरोसा

गौरतलब है कि कंपनी के ऊपर भारी कर्ज है और यह कर्ज उसके कुल एसेट से भी ज्यादा है. कंपनी ने कहा कि गैस आधारित बिजली संयंत्र के उपकरणों का समयबद्ध तरीके से मौद्रीकरण कर यानी बेचकर उसे समय से उचित और पर्याप्त नकदी की व्यवस्था करने का भरोसा है. कंपनी अपने कई और सबसिडियरी के एसेट भी बेचेगी.

 

कोरोना का क्या हुआ असर 

रिलायंस पावर ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान बिजली की मांग में भारी गिरावट आई थी, खासकर इंडस्ट्रियल और कॉमर्शियल कंज्यूमर सेगमेंट में. लेकिन लॉकडाउन के प्रतिबंध हटने के बाद बिजली की मांग सामान्य स्तर तक पहुंच गई.

गौरतलब है कि रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप के मुखिया काफी मुश्किल में चल रहे हैं, ऐसे में यह खबर उनको थोड़ी राहत देने वाली है. उनकी कई कंपनियों की हालत खस्ता है और वे खुद एक चीनी बैंक से लोन बकाया मामले में ब्रिटेन की अदालत में मुकदमे का सामना कर रहे हैं.