slider

कोरोना वायरस संकट को मात देने के लिए देश में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल लगातार जारी है. उत्तर प्रदेश के कानपुर में रूस की स्पुतनिक-V वैक्सीन का ट्रायल किया गया है.

कानपुर के GSVM मेडिकल कॉलेज में स्पुतनिक-V के ट्रायल के दूसरे फेज के लिए टेस्टिंग की गई, इस दौरान कुल 13 वॉलंटियर्स को वैक्सीन की डोज़ दी गई. इस वैक्सीन का डोज़ देने के बाद सभी को करीब दो घंटे के लिए निगरानी में रखा गया. इस दौरान राहत की बात ये रही कि किसी को भी कोई परेशानी नहीं हुई.

आपको बता दें कि इस पूरे ट्रायल में यहां कुल 1000 लोगों को डोज़ दी जानी है, शुरुआती नतीजों के बाद ही आगे इस्तेमाल पर फैसला होगा. अस्पताल के मुताबिक, ट्रायल में सभी उम्र के लोगों को शामिल किया गया है. इसके अलावा, प्रखर अस्पताल में भी 17 वॉलंटियर्स को देश में बन रही को-वैक्सीन की डोज़ दी गई.

 

स्पुतनिक V के बारे में…

गौरतलब है कि स्पुतनिक V रूस की वैक्सीन है, जिसका भारत में भी ट्रायल जारी है. इस वैक्सीन को बनाने वाली कंपनी का दावा है कि ट्रायल के दौरान यह 91.4 फीसदी प्रभावी पाई गई.

भारत में भी इस वैक्सीन का बड़े पैमाने पर उत्पादन होगा. भारत ने इस वैक्सीन की 10 करोड़ डोज बुक की हैं. भारत में हैदराबाद स्थित Dr Reddy’s Laboratories इसका ट्रायल कर रही है. इस वैक्सीन को -18 डिग्री तक के तापमान में स्टोर किया जा सकता है.

देश में इस वक्त करीब आठ वैक्सीन पर ट्रायल चल रहा है, जिनमें से तीन देसी हैं जबकि पांच वैक्सीन बाहरी हैं. पीएम मोदी ने बीते दिनों सर्वदलीय बैठक में ऐलान किया था कि भारत को वैक्सीन के मोर्चे पर जल्द ही खुशखबरी मिल सकती है.