slider

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण की 44 सीटों पर प्रचार अभियान गुरुवार को शाम थम जाएगा. इस दौर की 44 सीटों पर वोटिंग 10 अप्रैल यानी शनिवार को होनी है. इस चरण में महिला मतदाता काफी अहम भूमिका में हैं, जो तकरीबन आधा दर्जन सीटों पर जीत हार का फैसला करेंगी. यही वजह है कि बीजेपी से लेकर टीएमसी और कांग्रेस-लेफ्ट गठबंधन महिला मतदाताओं को साधने में जुटे हैं.

बंगाल के चौथे चरण में 5 जिलों की 44 सीटों पर शनिवार को वोट डाले जाएंगे. इनमें हावड़ा जिले की 9 सीट, दक्षिण 24 परगना जिले की 11 सीट, हुगली जिले की 10 सीट, अलीपुरद्वार की 5 सीट और कूच बिहार की सभी 9 सीटों पर वोटिंग होगी.

दक्षिण 24 परगना जिले में महिला वोटर अहम

एक न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक साउथ 24 परगना जिले की सीटों पर पुरुषों से ज्यादा महिला वोटर हैं. दक्षिण 24 परगना में महिला मतदाताओं की कुल संख्या 15,70,392 है, जबकि पुरुष मतदाताओं की संख्या 15,66,161 है. ऐसे में साफ जाहिर है कि महिला मतदाता दक्षिण 24 परगना जिले में निर्णायक भूमिका निभाएंगी.

दक्षिण 24 परगना जिले की 11 विधानसभा सीटों में से आधी से ज्यादा यानी 6 सीटों की जीत हार का फैसला महिलाओं के हाथ में होगा. सोनारपुर दक्षिण, सोनारपुर उत्तर, जादवपुर, टॉलीगंज, बेहला उत्तर, बेहला दक्षिण में महिला वोटरों की संख्या अधिक है.

वहीं, जादवपुर निर्वाचन क्षेत्र में सबसे अधिक लिंगानुपात 1,068 है. यहां 1,44,420 पुरुष मतदाताओं के मुकाबले 1,54,239 महिला मतदाता हैं, इसके बाद बेहाला पश्चिम में लिंगानुपात 1,054 है. यहां 1,52,237 पुरुषों के मुकाबले 1,60,502 महिला मतदाता हैं. 1,051 के लिंगानुपात के साथ हाई-प्रोफाइल टॉलीगंज निर्वाचन क्षेत्र में 1,31,355 महिला मतदाता हैं, जबकि पुरुष मतदाता 1,31,355 हैं.