slider

अप्रैल महीने में भारत का निर्यात करीब तीन गुना बढ़कर 30.21 अरब डॉलर तक पहुंच गया. पिछले साल अप्रैल में निर्यात 10.17 अरब डॉलर का हुआ था. वाणिज्य मंत्रालय द्वारा रविवार को जारी प्रारंभिक आंकड़ों से यह जानकारी सामने आई है.

कोरोना संकट के बावजूद अप्रैल महीने में भारत का निर्यात करीब तीन गुना बढ़कर 30.21 अरब डॉलर तक पहुंच गया. पिछले साल अप्रैल में निर्यात 10.17 अरब डॉलर का हुआ था. वाणिज्य मंत्रालय द्वारा रविवार को जारी प्रारंभिक आंकड़ों से यह जानकारी सामने आई है.

इस दौरान देश का आयात भी करीब 165 फीसदी बढ़कर 45.45 अरब डॉलर तक पहुंच गया. अप्रैल 2020 में देश का आयात 17.09 अरब डॉलर था.

वाणिज्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘इस तरह अप्रैल में शुद्ध रूप से भारत आयातक देश रहा है और व्यापार घाटा 15.24 अरब डॉलर का हुआ.’ गौरतलब है कि पिछले साल कोरोना लॉकडाउन के दौरान अप्रैल 2020 के निर्यात में 60.28 फीसदी की ​रिकॉर्ड गिरावट आई थी.

इन वस्तुओं का बढ़ा निर्यात

अप्रैल में जेम्स एवं ज्वैलरी, जूट, कारपेट, हैंडीक्राफ्ट, लेदर, इलेक्ट्रॉनिक्स गुड्स, खली, काजू, इंजीनियरिंग, पेट्रोलियम उत्पाद, मरीन उत्पाद और रसायन के निर्यात में अच्छी बढ़ोतरी हुई है. अप्रैल 2021 में तेल का आयात भी काफी बढ़ा. अप्रैल में कच्चे तेल का आयात 10.8 अरब डॉलर तक पहुंच गया, जबकि अप्रैल 2020 में यह 4.65 अरब डॉलर का था.

मार्च में भी हुई थी अच्छी बढ़त

इसके पहले मार्च 2021 में निर्यात 60.29 बढ़कर 34.45 अरब डॉलर तक पहुंच गया था. इंजीनियरिंग, रत्न एवं आभूषण तथा औषधि जैसे प्रमुख क्षेत्रों में माह के दौरान अच्छी वृद्धि दर्ज की गयी जिससे मार्च में निर्यात बढ़ा था. एक साल पहले मार्च 2020 में यह 31.47 अरब डॉलर था. वहीं वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान आयात 18 फीसदी घटकर 388.92 अरब डॉलर रहा, जो 2019-20 में 474.71 अरब डॉलर तक पहुंच गया था.