slider

शेयर बाजार के लिए मंगलवार का दिन बेहद मंगल साबित हुआ है. निफ्टी ने आज 16 हजार के बैरिकेड को तोड़ दिया है. जैसे ही निफ्टी ने कारोबार के दौरान 16000 के आंकड़े को पार किया, निवेशकों में खुशी की लहर दौड़ गई.

दरअसल, पिछले दिनों में कई बार निफ्टी 16 हजार के करीब पहुंचकर नीचे फिसल जा रहा था. लेकिन आज निफ्टी ने रिकॉर्ड 16 हजार के स्तर को तोड़कर कारोबार कर रहा है. मंगलवार को निफ्टी 15,951.55 पर खुला था. जबकि सोमवार को 15,885 अंक पर बंद हुआ था.

कारोबार के दौरान निफ्टी ने अधिकतम 16,048.45 स्तर को छुआ और उसी के आसपास ट्रेड कर रहा है. निफ्टी ने पिछले 120 सत्रों में 15 हजार से 16,000 के सफर को तय किया है. निफ्टी ने 5 फरवरी 2021 को 15 हजार का स्तर को पार किया था. सेंसेक्स 53,540.77 के आसपास ट्रेड कर रहा है.

भारतीय शेयर बाजार ने ये ऐतिहासिक आंकड़ा तब छुआ है, जब कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण तमाम एशियाई बाजारों में दबाव देखने को मिल रहा है. निक्केई और Hang Seng में कमजोरी देखने को मिल रही है. Shanghai Composite की चाल सुस्त है.

बाजार में तेजी की वजह

कोरोना के मामले घटने से इकोनॉमी में तेजी के संकेत मिल रहे हैं. जुलाई 2021 में जीएसटी कलेक्शन बढ़कर 1.16 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. इससे पहले जून-2021 में जीएसटी कलेक्शन एक लाख करोड़ रुपये से कम यानी 92,849 करोड़ रुपये रहा था. जबकि जुलाई-2020 में जीएसटी कलेक्शन 87,422 करोड़ रुपये रहा था.

साथ ही इंडस्ट्रियल सेक्टर में रिकवरी के संकेत मिल रहे हैं. कोर सेक्टर का आउटपुट जून में सालाना आधार पर 8.9 फीसदी बढ़ा है. इसके अलावा भारत का एक्सपोर्ट आंकड़ा भी सालाना आधार पर सुधरा है. देश की बिजली की खपत जुलाई में करीब 12 फीसदी बढ़कर 125.51 अरब यूनिट (बीयू) पर पहुंच गई. यह महामारी पूर्व के स्तर के लगभग बराबर है.