slider

बैंगलोर के मंजूश्री कॉलेज ऑफ नर्सिंग के 210 छात्रों में से 40 छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से 18 छात्रों को विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती किया गया है. वहीं बाकियों को हॉस्टल में सेल्फ आइसोलेशन में रखा गया है. इनमें से ज्यादा छात्र केरल के रहने वाले हैं.

केरल में बढ़ते कोरोना के मामले के बीच कर्नाटक में भी कोरोना ब्लास्ट हुआ है. यहां एक कॉलेज के 40 छात्र और एक अपार्टमेंट के 103 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.

बेंगलुरु के मंजूश्री कॉलेज ऑफ नर्सिंग के 210 छात्रों में से 40 छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से 18 छात्रों को विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती किया गया है. वहीं बाकियों को हॉस्टल में सेल्फ आइसोलेशन में रखा गया है. इनमें से ज्यादा छात्र केरल के रहने वाले हैं.

उधर, बेंगलुरु के ही एसएनएन राज लेकव्यू अपार्टमेंट के 103 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से 96 लोगों की उम्र 60 साल से ज्यादा है. हाल ही में अपार्टमेंट में पार्टी हुई थी जिसके बाद इन लोगों की कोरोना जांच की गई थी जिसमें यह लोग संक्रमित पाए गए हैं. बेंगलुरु महानगरपालिका (बीबीएमपी) कमिश्नर ने इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इस दिशा में जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं.

कर्नाटक में केरल से आने वालों को लेकर सख्ती

कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद कर्नाटक ने केरल से आने वाले लोगों को लेकर सख्ती बढ़ा दी है. राज्य प्रशासन के मुताबिक केरल से कर्नाटक के होटल, रिजॉर्ट, हॉस्टल और किसी आवास पर रुकने के लिए 72 घंटे पहले की नेगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट होनी चाहिए.

जांच के दौरान पॉजिटिव पाए गए लोगों को NIMHANS भेजा जाएगा. कोविड नोडल अधिकारी की अनुमति के बिना हॉस्टल और कॉलेज में रह रहे लोगों से उनके रिश्तेदारों को मिलने नहीं दिया जाएगा. संबंधित विभाग को केरल से कर्नाटक आए स्टूडेंट्स की एक लिस्ट तैयार रखनी होगी. यही नियम कंपनियों, आरडब्ल्यूए के लिए भी लागू किए गए हैं.